Breaking News
Home / Uncategorized / जिंदगी जीना शुरू करें बड़े आराम से||बीजी मोड से बाहर निकलें||अपने बेडरूम को पूरी तरह से नो वर्क जॉन बनाएं

जिंदगी जीना शुरू करें बड़े आराम से||बीजी मोड से बाहर निकलें||अपने बेडरूम को पूरी तरह से नो वर्क जॉन बनाएं

न्यूरोसाइंटिस्ट का मानना है की व्यस्तता एक कॉगीनटीव ओवरलोड की तरह है | ह अवस्था हमारे सोचने, प्लैनिंग करने ,व्यवस्थित रहने और इनोवेशन करने की योग्यता को खत्म कर देती है | व्यस्तता से मुक्ति पाने के लिए करें कुछ खास उपाय

जिंदगी जीना||शुरू करेंबड़े, आराम से!

क्या आपको हमेशा बिजी रहने की लत लग गई है क्या आप लोगों को बताते रहते हैं कि मैं तो काम के चक्कर में बहुत ज्यादा बिजी हूं | अब असल सवाल तो यह है कि क्या आप वाकई बिजी हैं | या फिर आपके लिए बिजीनेस एक स्टेटस सिंबल बन चुकी है | यह एक संकेत है जो बताता है कि आपकी डिमांड बनी हुई है और आप महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं | विशेषज्ञ कहते हैं कि खुद को अन बिजी करें यानी हर समय व्यस्त रहना जरूरी नहीं है इससे क्रिएटिविटी खत्म होती है आप बस रूटिंग का काम ही कर सकते हैं | आपको एक एनबीजी मेनिफेस्टो काम में लेना होगा |

व्यस्तता का महिमामंडन ना करें

जब हम कहते हैं कि हम व्यस्त तो हमें लगता है कि हम जिंदगी में जीत रहे  हैं, जब के होता इसका उल्टा है | व्यस्तता नुकसान पहुंचाती है | व्यस्त दिन में से कुछ समय अपने लिए निकालें और अपने क्रियाकलापों (Activities)  के बारे में चिंतन करें | सफल लोग सीख चुके हैं कि व्यस्त रहना समय खराब करना ही है |

मस्ट डू’

भरम से बचें

लेखिका लॉरा वैंडरकम अपनी किताब ‘ऑफ द क्लॉक’ मैं समझाती है की हम पूरे दिन में अपने कई कामों को बिना डर के हटा सकते हैं | रोजमर्रा की टू डू’

लिस्ट जो काम करना सबसे ज्यादा जरूरी प्रतीत होते हैं, कई बार उन्हें पूरा करना जरूरी नहीं होता | वह हमें सब शारीरिक और मानसिक रूप से व्यस्त रखते हैं | हमें अपना समय सही तरह से गुजारना चाहिए |

व्यस्तता से बचें

यदि आपके जीवन में इस तरह का मिसमैच हैं कि आप कोई काम करना चाहते हैं और कर कुछ और रहे हैं तो यह गैप आपकी एनर्जी को खत्म कर देता है | ज्यादा से ज्यादा काम करने का दबाव आपको तनावग्रस्त रखता है

सोचने का ढंग बदलें

कई बार हम अपने जीवन में कुछ इस तरह के कामों में व्यस्त  रहते  हैं जो हमें क्रिएटिव बनने से रुकते हैं |

जीवन को कंट्रोल करें

जब हम व्यस्तता के बारे में लोगों को बताते हैं तो हम परिस्थिति को लेकर दुखी होते रहते हैं | व्यस्तता की व्याख्या करने से हम और भी ज्यादा व्यस्त होते जाते हैं, क्योंकि हम वही बातें बोलते हैं जिन पर भरोसा करते हैं | लेखक  जोना थन फील्ड अपनी किताब में ‘अनबिजी;   ए मेनिफेस्टो` मैं बताते हैं कि जब व्यस्तता को  त्यागकर खुद के बारे में जागरूक होते हैं तो        ऑटोपायलट मोड पर जल्द ही जिंदगी आप के कंट्रोल में आने लगती है |

 

बीजी मोड से

बाहर निकलें

अपना समय मैनेज करने के लिए कैलेंडर साथ में रखें या टू डू लिस्ट बनाएं|

मुझे करना पड़ेगा के बजाय मैं करना चाहता हूं का फ्रेमवर्क बनाएं |

खुद के लिए अलार्म सेट करें

जल्दी उठे हैं ताकि सुबह के समय रिलैक्स रहे|

प्राथमिकता बनाएं== हर काम तुरंत पूरा नहीं करना होता है

हर रोज अपना पसंदीदा संगीत सुनने के लिए 10 मिनट निकाले ज्यादा संगीत सुनना भी अच्छा नहीं है

अपने बेडरूम को पूरी तरह से नो वर्क जॉन बनाएं

 

 

 

About aaztaknewslive

Aaztaknewslive

Check Also

*किशनगंज कप्तान(एसपी)कुमार आशिष की पहल पर जिले के सभी थाना में लगाएं गए दुरभाष*

जिले के सभी थाना में लगाये गये दूरभाष को पूरी तरह से दुरूस्त कर दिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *